Yog Shivir Day- 13

Yog Shivir Day- 13

You will get 10 minutes to solve 20 questions.

Time limit over.


Created on By Vedamrita

Patanjali yog shivir Day- 13

20 days Sah-Yog shikshak Shivir by Patanjali Yog Smitti Haryana

1 / 20

क्रियायोग के अभ्यास से किसकी भावना बतलाई गयी है?

2 / 20

अनित्य को नित्य समझना किसका लक्षण है?

3 / 20

पतंजलि के अनुसार हिंसा का प्रकार नही है?

4 / 20

पतंजलि के अनुसार वितर्कों से बाधित होने पर करना चाहिए?


5 / 20

पतंजलि के अनुसार वितर्कों से बाधित होने पर करना चाहिए?

6 / 20

पतंजलि के अनुसार धर्मादिरूप से भेदन होता है?

7 / 20

योगसूत्र में प्रणव किसका वाचक माना गया है?

8 / 20

अनुभूत विषय की चित्त में उपस्थिति है?

9 / 20

अपरवैराग्य में साधक होता है?

10 / 20

ईश्वर का वाचक है?

11 / 20

पतंजलि के अनुसार स्वरूप- प्रतिष्ठा है?

12 / 20

पतंजलि के अनुसार शौच का फल नही है?

13 / 20

पतंजलि के अनुसार प्रकाश का आवरण क्षीण होता है?

14 / 20

पतंजलि के अनुसार चित्त से विविक्त साक्षात्कार कर लेने वाले की भावना हो जाती है?

15 / 20

यम सीमित होते हैं?

16 / 20

योगसाधना की दृष्टि से अक्लिष्ट वृत्तियां है?

17 / 20

पतंजलि के अनुसार प्राणायाम बताये गए हैं?

18 / 20

पतंजलि के अनुसार चित्त के साक्षी पुरूष का चित्त की वृत्तियां होती है?

19 / 20

पापात्मा के प्रति योग साधक को भाव रखना चाहिए?

20 / 20

निरतिशय सुख प्राप्ति का साधन है?